Shamshera Title Track song Lyrics | Sukhwinder Singh Lyrics | With Meaning

Shamshera Title Track song Lyrics in English – Sukhwinder Singh Lyrics

Singer Sukhwinder Singh
Composer Ranbir Kapoor
Music Mithoon
Song Writer Mithoon

Shamshera Title Track song Lyrics in English

Saanson Mein Tufaanon Ka Dera
Nigahein Jaise Cheel Ka Pehra
Koi Rok Na Paayega Isse
Jab Uthe Yeh Bann Ke Savera

Saanson Mein Tufaanon Ka Dera
Nigahein Jaise Cheel Ka Pehra
Koi Rok Na Paayega Isse
Jab Uthe Yeh Bann Ke Savera

Khanjar Hain Peeth Me Gehra
Ghana Chaahe Andhera
Phir Bhi Zid Pe Zinda Joh
Kehlaye Woh Shamshera

Khanjar Hain Peeth Mein Gehra
Ghana Chahe Andhera
Phir Bhi Zid Pe Zinda Joh
Kehlaye Woh Shamshera

Shamshera

Isse Joh Takrane Ki Koshish Kare
Mitti Mein Mil Jaave
Joh Kaid Karne Ki Sazish Kare
Unko Yeh Samjhave

Kudrat Bhi Isse Ghabraye
Jab Yeh Hathiyar Uthaye
Koi Rokne Ki Jurrat Kare Na
Jab Yeh Kadmon Ko Badhaye

Khoon Mein Badshahat Hey
Jeetne Ki Hain Aadat Hey Hey
Nas Mein Loha Bahe Hain Hey
Tay Hain Mitna Tera Hey Hey

Aa Gayi Aa Gayi Hain Hey
Dushmanon Ki Yeh Shaamat Hey Hey
Dhoondh Lega Unka Nishaan
Chahe Pee Le Unko Sehra

Khanjar Hain Peeth Mein Gehra Shamshera
Ghana Chahe Andhera Shamshera
Phir Bhi Zid Pe Zinda Joh Shamshera
Kehlaye Woh Shamshera Shamshera

Khanjar Hai Npeeth Mein Gehra
Ghana Chahe Andhera
Phir Bhi Zid Pe Zinda Joh
Kehlaye Woh Shamshera

Shamshera Shamshera
Shamshera Shamshera
Shamshera Shamshera
Shamshera Shamshera

Shamshera Shamshera
Shamshera Shamshera
Shamshera Shamshera
Shamshera Shamshera

Shamshera Title Track song Lyrics in Meaning

सांसों में तूफ़ान का डेरा
निगाहें जैसे चील का पहरा
कोई रोक ना पायेगा इसे
जब उठे ये बन के सवेरा

सांसों में तूफ़ान का डेरा
निगाहें जैसे चील का पहरा
कोई रोक ना पायेगा इसे
जब उठे ये बन के सवेरा

खंजर हैं पीठ में गहरा
घाना चाहे अंधेरा
फिर भी ज़िद पे ज़िंदा जो
कहे वो शमशेरा

खंजर हैं पीठ में गहरा
घाना चाहे अंधेरा
फिर भी ज़िद पे ज़िंदा जो
कहे वो शमशेरा

शमशेरा

इस्से जो तकराने की कोषिश करे
मिट्टी में मिल जावे
जो कैद करने की सज़ीश करे
उन्को ये समझौता

कुदरत भी इस्से घबराये
जब ये हाथियार उठाये
कोई रोकने की जुर्रत करे ना
जब ये कदमों को बढ़ाए

खून में बादशाहत हे
जीते की हैं आदत हे हे
न में लोहा बहे हैं अरे
ता हैं मितना तेरा हे अरे

आ गई आ गई है हे
दुश्मनो की ये शामत हे अरे
धूंध लेगा उनका निशान
चाहे पी ले उन्को सेहरा

खंजर हैं पीठ में गहरा शमशेरा
घाना चाहे अंधेरा शमशेरा
फिर भी ज़िद पे ज़िंदा जो शमशेरा
कहे वो शमशेरा शमशेरा

खंजर है नपीठ में गहरा
घाना चाहे अंधेरा
फिर भी ज़िद पे ज़िंदा जो
कहे वो शमशेरा

शमशेरा शमशेरा
शमशेरा शमशेरा
शमशेरा शमशेरा
शमशेरा शमशेरा

शमशेरा शमशेरा
शमशेरा शमशेरा
शमशेरा शमशेरा
शमशेरा शमशेरा

 

Shamshera Title Track song Lyrics in English Watch Video

Leave a Reply

Your email address will not be published.